Padosan ko Sex Tuition diya

पड़ोसन को सेक्स ग्यान दिया

दोस्तो मै आज आपको अपनी एक रियल चुदाई की कहानी सुनाने जा रहा हू. ये स्टोरी आपको केसी लगी ज़रूर बताना

मई पिछले महीने अपने घर पे बैठा था टीवी देख रहा थी घर पर कोई नही था मै अकेला थे. मेरे सामने वाले घर पर एक लड़की रहती हे जो 12 वी मे पढ़ती हे. कभी कभी उसे कुछ ना आए तो मुझे पूछने चली आती हे मै साइन्स बहुत अच्छे से पढ़ता हू उस दिन जब मै घर पे अकेला था तब वो आई उसने रेड टी शर्ट और नीचे केप्री पहन रखी थी उसे साइन्स मे एक टॉपिक समाज नही आ रहा था तो वो पूछने आई थी

टॉपिक था बच्चा केसे होता हे मेल और फीमेल केसे बनता हे मै उस दिन घर पे अकेला ही था तो मैने सिर्फ़ ट्रॅक पहन रखा था अंदर कुछ नही पहना था. मै सोफे पर बैठा था और वो मेरे बाजू मे आके बैठ गई एकदम करीब आके उसके पैर मेरे पैर से टच हो रहे थे और मेरी कोहनी उसके नाज़ुक छोटे छोटे बूब्स को छुए ऐसे हम दोनो बैठे थे मै उसे टॉपिक समझाने लगा उसमे एक वर्ड आया की लिंग

उसे समझ नही आया उसने पूछा की ये क्या हे मुझे समझ नही आया मैने उसे बताया की उसका मतलब मेल और फीमेल का गुप्त पार्ट पिसाब करने की जगह. पुरुष का एक लिंग पार्ट होता हे और फीमेल का 2 पार्ट होता हे एक योनि और दूसरा स्तन उसे स्तन वर्ड समझ मे नही आया उसने फिर पूछा की ये कों सा अंग होता हे. फिर मै भी कन्फ्यूज़ हो गया मै सोचने लगा की क्या सच मच इसे नही पता या आएसए ही ये मुझसे पूछ रही हे मै सोच ने लगा अब केसे समझाऊ.

फिर मैने उसे समझाया जहा से बची मा का दूध पीते हे उसे स्तन कहते हे फिर उसने मुझसे लंड क बारे पूछा मै ने उसे वो भी समझाया. और लंड से क्या होता हे वो भी समझाया जब मै समझाा रहा था तब मैने अपने पैर मे कुछ महसूस किया वो अपने उंगली को मेरे पैर पे घुमा रही थी और काफ़ी करीब बैठी थी मेरी कोहनी उसके बूब्स के बिल्कुल पास थी. वो थोड़ी थोड़ी देर मै जान बुजकर मेरी कोहनी से अपने बूब्स को सहला रही थी.

मेरा भी लंड धीरे धीरे टाइट हो रहा था मैने सिर्फ़ ट्रक पहन रखा था तो उसकी वजह से मेरा लंड का शेप ट्रॅक के अंडर से सॉफ दिखाई दे रहा था. उसकी निगाह अब मेरे टाइट लंड पर टिक गई वो बार बार उसे छूने की कोशिश कर रही थी उसने अपना एक हाथ मेरी जाँघ पर रख दिया लिखने के बहाने फिर धीरे धीरे वो अपना हाथ मेरे लंड की और बढ़ने लगी. मे और उत्तेजित होने लगा अब मेरा लंड एकदम टाइट हो गया था उसकी नियजरे उसीके उपर थी.

आख़िर उससे नही रहा गया और मुझे पूछने लगी सिर ये आपको क्या हुआ हे कू6 तकलीफ़ हे मैने कहा नही जब एक मेल उत्तेजित होता हे तो उसका लंड आएसए टाइट हो जाता हे और योनि मे जाने क लायक हो जाता हे. तो उसने मुझसे पूछा की टाइट केसे होता हे इतनी छोटी चीज़ बड़ी केसे हो जाती हे? तो मैने कहा हमारे लंड की चाँदी और नसे फूलने लगती हे और डंडे की तरह तां जाती हे सिर मेरी तो कुछ समझ नही आ रहा हे.

प्लीज़ आप मुझे एक बार ऐसा दिखाइए ना तभी मुझे समझ आअएगा मै किसी को नही बताउंगी इससके बारे मे. मैने माना कर दिया और कहा नही ये मै नही कर सकता तो उसने मेरा लंड एकदम टाइट पकड़ लिया और कहा प्ल्ज़ सिर मै किसी को नही कहूँगी प्लीज़ उसके पकड़ते ही जेसे मेरे लंड को 440 का झटका लग गया. मै भी अब आउट ऑफ कंट्रोल हो गया मैने कहा ठीक हे पर किसिको बताना मॅट.

तो उसने कहा ठीक हे फिर धीरे धीरे मैने अपना ट्रक उतार दिया और मेरा ताना हुआ लंड उसकी आखो के सामने था वो सदमे मे मेरे लंड को देखा रही थी और अपने होत (लिप्स) दंटो मे दबा रही थी फिर थोड़ी देर बाद वो मुझसे बोली सिर क्यामै उसे छू सकती हू मै भी मन मे यही चाहता था… मै ने कहा ठीक हे तो उसने मेरे नंगे लंड को अपने नाज़ुक हाथो मे लिया और आगे पीछे करने लगी मेरा भी मान कर रहा था की उसके बूब्स को दबौउ.

फिर मैने भी धीरे धीरे अपना हाथ उसकी झांग पर फेरने लगा मेरे आएसा करते ही वो उत्तेजित होने लगी और झोर से मेरे लंड को दबाने लगी फिर क्यट हा मेने भी अपना हाथ उसके बूब्स पर रख दिया और उसके नाज़ुक और छोटे छोटे बूब्स दबाने लगा फिर मैने उससे अपना त शर्ट उपर करने को कहा तो उसने तो अपना टी शर्ट ही उतार दिया और अंदर का पेटिकोट भी उतार दिया क्या गोरे गोरे छोटे बूब्स थे उसके छोटी छोटी निपल मेरे तो मुहमे तुरंत पानी आगया मै तुरान उसके निपल चूसने लगा.

ज़ोर ज़ोर से मैने उसके निपल चूसने लगा वो मेरे लंड को अब ज़ोर से पकड़ कर दबाने लगी करीब आधे घंटे तक मै उसके बूब्स चूसने लगा. उसके बाआड़ मैने अपना लंड उसके मूह मे दे दिया अब वो मेरा लंड माधोस होकर चूसने लगी जेसे चोकोबार आइस क्रीम खरही हो मे भी पागल हो रहा था. करीब आधे घंटे तक वो चुस्ती रही और मै उसकी छूट मे उंगली डाल के सहलाने लगा मैने उसे फिर पूरा नंगा कर दिया और उसकी छूट मे उंगली दल कर छोड़ने के लिए तैयार कर ने लगा

उसकी छूट मेसए पानी लगातार तपाक रहा था फिर थोड़ी देर बाद मै कॉंडम ले आया और अपने लंड मे चढ़ा क उसको छोड़ने की तैयारी करने लगा वो अपनी टाँगे फेला कर लेट गई और मै ने धीरे से अपना लंड उसकी छूट पे रखओर धीरे धीरे धक्का देने लगा वो दर्द से चिल्लाने लगी तो मैने उसका मूह बंद कर दिया. और एक ज़ोर से धक्का उसकी छूट मे किया और मेरा पूरा लंड उसकी छूट मे घुस गया.

उसका मूह खुला का खुला रह गया दर्द की वजह से अब खून भी निकल ने लगा वो दर गई तो मैने कहा ये कोई बड़ी बात नही हे पहली बार आएसा होता हे और उसके बाद मै उसे छोड़ने लगा अब उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था. वो भी उछाल उछाल कर छुड़वा रही थी आधे घंटे ताल मैने उसकी चुदाई की उसके बाद मै झड़ने वाला था तो मैने कॉंडम निकल दिया और अपना लंड

उसके मूह मे दे दिया और सारा पानी उसके मूह मे छोड़ दिया आआअहह. बहुत मज़ा आया जवान छूट को छोड़ क फिर 1 वीक तक मै उसे रोज चोदता रहा ऑरा क वीक मे ही उसके बूब्स बड़े बड़े हो गये अब वो पूरी औरत बन गैट ही. तो इश्स तरह एक स्टूडेंट की सेक्स की क्लास ख़तम हुई